प्रधानमंत्री मोदीक जनकपुर दौरा रद्द, आखिर कारण की?

    0
    53

    दिल्ली-मिथिला मिररः भारतीय प्रधानमंत्री नेरंद्र मोदीक जनकपुर दौरा अचानक रद्द भेनाई बहुत रास प्रश्न कें श्वतः जन्म द दैत अछि। आखिर कोन एहन कारण भेलै जे पीएमो द्वारा नेपाल सरकार कें आधाकारिक रूप सं जनकपुर दौरा कें रद्द करवाक सूचना देल गेल। अधिकृत रूप सं नेपाल सरकार कें सूचित कैल गेल छल जे भारतक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 17 नवंबर क अयोध्या सं निकलल श्रीराम जी’क बरियाती मे 25 नवंबर क सम्मलित हेतथि आ ओहि क्रम मे मोदी मिथिला नरेश राजा जनकक नगरी जनकपुर मे जा पूजा-अचर्ना करतथि। नेपाल सं लय संपूर्ण मिथिला मे अहि बातक हर्ष छल कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मिथिला नगरी मे आबि रहला अछि मुदा अंतिम समय मे जाहि तरहें पीएमो आ प्रधानमंत्री द्वारा जाहि कोनो कारण सं अहि यात्रा कें रोकल गेल हो ओहिक बाद लोकक हृदय मे अहि बातक बहुत कष्ट छैक जे प्रधानमंत्रीक दौरा कियैक रद्द भेलनि?

    नेपाल सरकार द्वारा सुरक्षा कें देखैत जनकपुर मे शासन-प्रशासन कें चुस्त-दुरूस्त क देल गेल छल। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदीक अगुवानी करवाक लेल हजारों-लाखोंक संख्या मे दुनू देशक मैथिल ओ नेपाली नागरीक टकटकी लगौने छलथि मुदा अंतिम समयक फैसला सं हुनका लोकनि आंखि मे कष्ट आ नाराजगी दुनू सामान्य रूप सं देखल जा रहलैनि अछि। पहनि एहन तरहक कार्यक्रम छल कि 26 ओ 27 नवंबर क नेपाल मे भ रहल ‘‘सार्क’’ सम्मेलन मे प्रधानमंत्री नेपाल मे रहतथि आ ओहि सं एक दिन पूर्व ओ जनकपुर धाम मे जा पूजा-अर्चना क श्रीरामक बरियातीक हिस्सा बनता। नेपाल सरकारक सड़क परिवहन मंत्री बिलनेंद्र निधिक मानी त भारतीय गृह मंत्रालय नेपाल मे भारतीय उच्चायोग कें अहि बातक जानकरी देलनि कि आब प्रधानमंत्रीक जनकपुर दौरा नहि हैत। पैछला अगस्त मे नरेंद्र मोदी नेपाल मे अहि बातक आश्वासन देने रहैथ जे ओ आगामी नेपाल दौरा मे जनकपुर धाम जेतथि आ ओहि ठाम पूजा-पाठ करता।
    एम्हर सूत्रक मानी त खबैर एहन आबि रहल अछि कि श्रीरामक जे बरियातीक आयोजन कैल गेल अछि ओकर आयोजन विश्व हिंदू परिषद क रहल अछि आ एहन मे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा ओहि बरियाती मे शामिल भेला सं राजनीतिक स्तर पर प्रतिकूल प्रभाव पडि़ सकैत छल, जखन कि बिहार मे अगिला साल विधान सभाक चुनाव छैक आ बिहार विधान सभाक चुनाव नहि सिर्फ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदीक लेल बल्कि पूरा भारतीय जनता पार्टीक लेल अहम मानल जा रहल अछि। कारण एक दिस नरेंद्र मोदी सब सं पैघ राजनीतिक दुश्मन नीतीश कुमार राज्य में संपर्क यात्रा पर छैथ आ एहन मे जौं मोदी ओहि बरियातीक हिस्सा बनितैथ त जातीय आधार पर वोट करै वला राज्य मे वोटक ध्रुवीकरण निश्चित छल आ अहि मुद्दा कें नीतीश कुमार अपना संपर्क यात्रा मे खुजि क भुना सकैत छलथि। बिहार मे होइवला विधान सभा चुनाव भारतीय जनता पार्टीक लेल अहि लेल महत्वपूर्ण अछि कि राज्य मे विधान सभाक संग-संग विधान परिषद सेहो छैक आ ओहिठामक जीत सं पार्टीक स्थिति राज्य सभा मे सेहो सुदृढ़ भ जायत।
    अगर पार्टी बिहार मे नीक प्रदर्शन करैत अछि त ओकर सीधा फायदा देशक सब सं पैघ विधान सभा वला राज्य उत्तर प्रदेश मे पड़त। चूंकि उत्तर प्रदेशक पूर्वांचल इलाका बिहार सं सटल अछि ओ ओहि ठाम बिहारक राजनीतिक सेहो बहुत बेसी असर पड़ैत छैक। एहन मे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आ भारतीय जनता पार्टीक लेल बिहार आ उत्तर प्रदेशक चुनाव जीतक अहि आवश्यक भ जाइत अछि। मामला चाहे वोटक ध्रुवीकरणक हो आ कि कोनो आन तरहक मुदा एतेक त साफ अछि कि दुनू देशक लाखोंक संख्या मे मोदीक समर्थक कें दिल जरूर टुटलनि अछि जेकर मोदी कोन तरहें मनौता ओ त समय बतायत।

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here